Child Development and Pedagogy gk in hindi (बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र) Part-8 विगत परीक्षाओं में पूछे गये महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर


हेल्लो दोस्तो , कैसे हैं आप सभी ? में आशा करता हूँ कि आप सबकी की पढाई अच्छी ही चल रही होगी.
मित्रों आज की पोस्ट में हम बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र से संबंधित उन प्रश्नों के बारे में आप से साझा करेंगे जो शिक्षक बनने की परीक्षाओं जैसे UTET, CTET , UPTET , UP Teacher RECRUITMENT , HTET , REET आदि में कहीं न कहीं पूछे जा चुके हैं.और आगे भी यह प्रश्न अक्सर परीक्षाओं में पूछे ही जाते रहते हैं. इस प्रकार के प्रश्न उन सभी परिक्षाओं में पूछे जाते जिनमें Child Development and Pedagogy विषय होता है. इसलिए मित्रों इन सभी प्रश्नों को अच्छे से याद कर लें.
Child Development and Pedagogy के विगत वर्षों के प्रश्नोत्तरों से संबंधित यह हमारा PART- 08 है.
इसी तरह बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के अन्य पार्ट भी हम लगातार आपको अपनी वेबसाइट गुरूजी पोर्टल के माध्यम से शेयर करते रहेंगे तो आप सभी से अनुरोध है कि आप अभी हमारी वेबसाइट को डेली विजिट करते रहें और प्रश्नों की अपडेट लेते रहें
Child Development and Pedagogy gk in hindi (बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र) Part-8 विगत परीक्षाओं में पूछे गये महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर
''अधिगम आधारित प्रक्रिया में अभिप्रेरणा, क्रिया तथा पुनर्बलन निहित है'', कथन है – सोरेन्‍सन

प्रेरक व्‍यवहार को – दिशा प्रदान करते हैं।

दशाएँ जो कार्य करने को प्रेरित करती हैं, उसे कहते हैं – अभिप्रेरणा

किस अभिप्रेरणा को ‘बाह्य प्रेरणा’ भी कहते हैं – नकारात्‍मक प्रेरणा

प्राथमिक कक्षा के विद्यार्थियों को अभिप्रेरणा प्रदान करने हेतु उत्‍तम उपाय है – पुरस्‍कार

कौन सा अभिप्रेरणा का प्रभाव अधिगम को प्रभावी बनाता है – अभिप्रेरक हमारे व्‍यवहार को निर्देशित करते हैं। विद्यार्थियों के सीखने में गुणात्‍मकता बढ़ाती है। छात्रों के सीखने की गति तीव्र होती है।

कौन सा अभिप्रेरणा का घटक नहीं है – रटन्‍तस्‍मृति

निम्‍न में से कौन सा उदाहरण अर्जित प्रेरक का है – रूचि

अभिप्रेरणा वर्णित होती है – भावात्‍मक जागृति द्वारा

सशक्‍त अभिप्रेरणा सीखने का प्रभावशाली घटक है – शीघ्र सीखता है।

कौन सा जैविक आवश्‍यकता कम जरूरी है – यौन

अधिगम तक पहुँचाने के राजमार्ग को कहते हैं – अभिप्रेरणा

‘स्‍नेह प्राप्‍त करने की इच्‍छा’ अभिप्रेरणा संदर्भ में क्‍या है – स्‍वाभाविक अभिप्रेरक

क्रिया को आरंभ करने, जारी रखने तथा नियंत्रित रखने की प्रक्रिया है – अभिप्रेरणा

निम्‍नलिखित में से अधिगम को अभिप्रेरित करने का कौन सा तरीका कम-से-कम काम में लाना चाहिए – पुरस्‍कार

मैंने एक बच्‍चे को एक अवधारणा समझाने का प्रयास किया, पर वह इसे नहीं समझ पाया, परन्‍तु कुछ वर्षों बाद जब उसी बच्‍चे को इस अवधारणा को समझाने का प्रयास किया तो बच्‍चा तुरन्‍त समझ गया। ऐसा होने का कारण है – परिपक्‍वता

निम्‍न में से उपलद्धि अभिप्रेरणा पर किन लोगों ने काम किया – मैक्लिलैंड एवं एटकिन्‍सन

शिक्षा की प्रक्रिया में प्रेरणा का महत्‍व है। इस बात को ध्‍यान में रखें तो अध्‍यापक को निम्‍न में से कौन सा कार्य नहीं करना चाहिए – इनामों का प्रलोभन देकर बालाकें में प्रति‍द्वंद्विता पैदा करना।

निम्‍न में से कौन सा तत्‍व अभिप्रेरणा के स्‍त्रोत से संबंधित नहीं है – मूल प्रवृत्ति

अभिप्रेरणा के संदर्भ में ‘प्‍यास’ है – अन्‍तर्नोद

किसको अभिप्रेरित शिक्षण का संकेतक माना जाता है – विद्यार्थियों द्वारा प्रश्‍न पूछने

अभिप्रेरणा की व्‍याख्‍या जन्‍मजात मूल प्रवृत्तियों के आधार पर की जा सकती है, किसने कहा है – मैक्‍डूगल ने

निम्‍नलिखित में से कौन सा जन्‍मजता प्रेरक नहीं है – आदत

बाह्य अभिप्रेरणा में समा‍वेशित किया जाएगा – प्रशंसा व दोषारोपण, प्रतिद्वन्द्विता, पुरस्‍कार एवं दण्‍ड, परिणाम का ज्ञान

निम्‍नलिखित में से कौन सा कथन सही नहीं है – आवश्‍यकतावंचना की शारीरिक अवस्‍था नहीं है।

निम्‍न‍ि‍लिखित में से कौन सा प्रेरणा का स्‍त्रोत नहीं है – तुष्टि

निम्‍नलिखित में से कौन सी विशेषता आंतरिक रूप से अभिप्रेरित बच्‍चों के लिए सही नहीं है – वे हमेंशा सफल होते हैं।

पुरस्‍कार एवं दण्‍ड है – कृत्रिम प्रेरक

निम्‍नलिखित में से कौन सा एक अभिप्रेरित शिक्षण का संकेत होता है – बच्‍चों द्वारा प्रश्‍न पूछना।

मूल प्रवृत्तियाँ कैसी होती है – जन्‍मजात

निम्‍नलिखितमें से जन्‍मजात अभिप्रेरक कौन सा है – निद्रा

निम्‍न में से कौन से प्रेरकों का वर्गीकरणगैरेट द्वारा किया गया – दैहिक, मनोवैज्ञानिक एवं सामाजिक

अभिप्रेरणा पर किस कारकका प्रभाव नहीं पड़ता है – भौतिक संरचना

गिलफोर्ड के अनुसार संवेगों का प्रकार नहीं है – नवीन

निम्‍नलिखित में से जन्‍मजात अभिप्रेरक नहीं है – रुचि

एक अध्‍यापिका यह सुनिश्चित करना चाहती है कि उसके विद्यार्थी आंतरिक रूप से प्रेरित है। इस संदर्भ में वह करेगी – अंतिम परिणाम पर ध्‍यान देने के बजाय व्‍यक्तिगत रूप से बच्‍चों की अधिगम की प्रक्रियाओं पर ध्‍यान देना।

किसी व्‍यक्ति को सामाजिक दृष्टि से स्‍वीकृ‍त कार्यकरने हेतु कौन सी प्रेरक प्रेरणा देता है – स्‍वीकृति प्रेरक

प्रेरक प्राणी में विद्यमान शारीरिक एवं मनोवैज्ञानिक दशाएँ हैं जो उसे निश्चित विधियों के अनुसार कार्य करने के लिए उत्‍तेजित करती है। प्रेरक की इस परिभाषा को देने वाले हैं – गेट्स एवं अन्‍य

निम्‍नलिखित में से कौन सी प्रेरणा की विधि नहीं है – व्‍यवहार में परिवर्तन करना।

निम्‍न में से कौन सी जन्‍मजात या आंतरिक अभिप्रेरणा नहीं है – उपलब्धि की आवश्‍यकता

अभिप्रेरणा से सम्‍बन्धित सही क्रम इंगित कीजिए – आवश्‍यकता-प्रणोद-प्रोत्‍साहन

किशोरावस्‍था में हड्डियों में अधिक वृद्धि होती है – भुजाओं और टाँगों की

प्रेरकों का वर्गीकरण अनेक विद्वानों ने किया मैस्‍लों द्वारा किया गया वर्गीकरण सही ढंग से निम्‍न में से किस विकल्‍प में दिया गया है – जन्‍मजात एवं अर्जित

अभिप्रेरणा के संदर्भ में ‘भूख’ है – अन्‍तर्नोद

सीखने की प्रक्रिया में अभिप्रेरणा – बच्‍चों में सीखने के प्रति रुचि का विकास करती है।

निम्‍न में से कौन सा उदाहरण अभिप्रेरणा का परिणाम नहीं है – जगन ने श्‍वास लेने की प्रक्रिया में रुचि दिखानी प्रारम्‍भ कर दी।

प्रेरणा का स्‍त्रोत निम्‍नलिखित में से कौन सा नहीं है – आदत

एक अध्‍यापक को निम्‍न में से किस कथन से सहमत होना चाहिए – बाह्य अभिप्रेरणा तब होती है, जब अधिगमकर्ता बाह्य पुरस्‍कार प्राप्‍त करने के लिए कार्य करते हैं।

निम्‍न में से कौन सा उदाहरण बान्‍डुरा के अवलोकन आधारित अधिगम का नहीं है – स्‍कूल की घंटीबजने पर अपने बस्‍ते बंद कर लेना।

‘अभिप्रेरणा सामान्‍य क्रिया-कलापों का प्रभाव है, जो प्राणी के व्‍यवहार को इंगित और निर्देशित करता है।’ यह परिभाषादी – जॉनसन

एक विद्यार्थी मेडिकल कॉलेज में दाखिला लेने के लिए कठिन परिश्रम करता है ताकि वह प्रवेश परीक्षा में उत्‍तीर्ण हो सके। यह विद्यार्थी …… से अभिप्रे‍त है – आंतरिक

आंतरिक रूप से अभिप्रेरित विद्यार्थी – के लिए बाह्य पुरस्‍कार उसकी अभिप्रेरणा को बनाए रखने के लिए पर्याप्‍त नहीं है।

उपलब्धि अभिप्रेरणा है – चुनौतीपूर्ण कार्य करने में डटे रहने की प्रवृत्ति

निम्‍न‍ि‍लिखित में से कौन सा मानसिक रूप से स्‍वस्‍थ्‍य व्‍यक्ति का लक्षण है – सहनशीलता, आत्‍मविश्‍वास, संवेगात्‍मक परिपक्‍वता

जब पूर्व का अधिगम नई स्थितियों के सीखने को बिल्‍कुल प्रभावित नहीं करता, तो यह ……… कहलाता है– अधिगम का शून्‍य स्‍थानांतरण

अभिप्रेरणा का निम्‍न में से कौनसा सिद्धान्‍त नहीं है – उद्दीपन अनुक्रिया का सिद्धान्‍त

किसे ‘ज्ञान की प्रथम सीढ़ी’ माना जाता है – संवेदना

लेविन के अनुसार व्‍यवहार, व्‍यक्ति तथा वातावरण कार्य हैं। इन्‍होनें किस सिद्धान्‍त में इस बात को महत्‍तव दिया है। – क्षेत्रीय सिद्धान्‍त

मैं पुस्‍तक पढ़ना पसंद करता हूँ क्‍योंकि –निम्‍न में से आंतरिक अभिप्रेरणा का कथन है – पुस्‍तक पढ़ने से मुझे आनंद मिलता है।

प्रेरकों के वर्गीकरण में निम्‍नलिखित में से कौनसा सही नहीं है – व्‍यावहारिक

अभिप्रेरणा से सम्‍बन्धित व्‍यवहार का लक्षण है – उत्‍सुकता

स्‍वधारणा अभिप्रे‍रक है – चेतावनीपूर्ण आन्‍तरिक धारणा

स्‍वाभाविक प्रे‍रकि है – अनुकरण

अभिप्रेरणा को प्रभावित करने वाले कारक है – आवश्‍यकताएँ, आकांक्षास्‍तर एवं रूचि, संवेगात्‍मक स्थिति

वह कारक जो व्‍यक्ति को कार्य करने के लिए उत्‍साह बढ़ाता या घटाता है, उसे कहते हैं – अभिप्रेरणा

ऐसे प्रेरक जो व्‍यक्ति जन्‍म के साथ ही लेकर आता है, वह है – जन्‍मजात प्रेरक

अर्जित प्रेरक के अन्‍तर्गत आते हैं – जीवन लक्ष्‍य व मनोवृत्तियाँ, मद-व्‍यसन, आदत की विवशता

कौन सा प्रेरक अर्जित प्रेरक नहीं है – क्रोध

विद्यालय में पुरस्‍कार के लाभ है – आनन्‍द प्राप्ति, मनोबल की वृद्धि, उत्‍साहवर्द्धक

‘अभिप्रेरणा अधिगम का सर्वोत्‍कृष्‍ठ राजमार्ग है’ अभिप्रेरणा के बारे में यह कथन है –स्किनर का

निम्‍न में से जो अभिप्रेरणा का लक्षण नहीं है, वह है – चिंता

प्‍यास एक तरह की – चक्रीय आवश्‍यकता है।

निम्‍न में से कौन से प्रक्रम का उपयोग एक अच्‍छा अध्‍यापक नहीं करेगा – प्रलोभन

मैक्लिलैंड का योगदान निम्‍नांकित में से किस क्षेत्र में सबसे प्रमुख है – उपलब्धि अभिप्रेरक

‘मूल प्रवृत्ति अभिप्रेरणा सिद्धान्‍त’ के प्रवर्तक कौन कहलाते हैं – उपलब्धि अभिप्रेरक

”मोटोवेशन” शब्‍द की उत्‍पत्ति किस भाषा के शब्‍द से हुई है – लेटिन

ऐसा कौन सा अभिप्रेरणाकासिद्धान्‍त है जो कि संकल्‍प शक्ति पर बल देता है – ऐच्छिक सिद्धान्‍त

निम्‍न में से अभिप्रेरणा का कौनसा स्‍त्रोत है – आवश्‍यकता,चालक, उद्दीपन

किस विद्वान के अनुसार प्रेरकों का वर्गीकरण ”जन्‍मजात व अर्जित” है – मैस्‍लो

मैस्‍लो के अतिरिक्‍त किन विद्वानों ने प्रेरकों का वर्गीकरण किया – मैरेट व थामसन ने

दण्‍ड एवं प्रतिस्‍पर्धा के माध्‍यम से उत्‍पन्‍न अभिप्रेरणा का प्रकार है – बाह्य

क्रोध एवं भय प्रेरक है – मनोवैज्ञानिक

एक अध्‍यापक के लिए बुद्धि परीक्षण की क्‍या उपयोगिता है – अध्‍यापन एवं विषय परीक्षण में इसे आधार बनाया जा सकता है।

बुद्धि के सम्‍बन्‍ध में निम्‍न में से कौन सा कथन सही नहीं है – बुद्धि की लम्‍बवत् बुद्धि जीवन पर्यन्‍त होती है।

कल्‍पना का शिक्षा में क्‍या स्‍थान है – सृजनात्‍मकता में सहायक

विभिन्‍न श्रेणीके मंदित बालकों को दर्शायी गई सही औसत बुद्धि का चयन कीजिए – पिछड़ा बालक – 80 से 99

‘संवेगात्‍मक बुद्धि : बुद्धिलब्धि से अधिक महत्‍वपूर्ण क्‍यों‘, पुस्‍तक के लेखक हैं – डेनियल गोलमेन

एक बालक जिसकी मानसिक आयु 12 वर्ष तथा कालानुक्रमिक आयु 10 वर्ष है, उसकी बुद्धिलब्धि होगी– 120

निम्‍न में से किन मनोवैज्ञानिकों ने संवेगात्‍मक बुद्धि पर काम किया – हावर्ड गार्डनर, डेनियल गोलमेन, जॉन डी मेयर व पीटर सालवे

‘बुद्धि इन चार शब्‍दों में निहितहै – ज्ञान, आविष्‍कार, निर्देश, आलोचना।‘ यह कथन किस मनोवैज्ञानिक का है – अलफ्रेड बिने

संवेगात्‍मक बुद्धि को लोकप्रिय बनाने का श्रेय किसको जाता है – डेनियल गोलमैन

किसी समुदाय में आसानी से संबंध बनाने व समायोजित होने की क्षमताकहलाती है – सांवेगिक बुद्धि

परिवार बच्‍चे को निम्‍न प्रकार से शिक्षा देता है – अनौपचारिक रूप से

गिलफोर्ड द्वारा प्रतिपादित बौद्धिकता रचना मॉडल में कितने तत्‍वों को सम्मिलित किया गया है – 120

भूख एक चालक है और भोजन एक – उद्दीपक

अभिप्रेरणा प्रदान करने में कौन महत्‍तवपूर्ण भूमिका निभाता है – शिक्षक

संप्रेषण से आशय है – विचारों का आदन-प्रदान

शिक्षक बालक के व्‍यवहार में किस तरह परिवर्तन कर सकता है – पुरस्‍कार, प्रसंशा, भर्त्‍सना द्वारा

शिक्षा में अभिप्रेरणा का महत्‍त्‍व दर्शाने वाला बिन्‍दु नहीं है – खेलकूद

Previous Post Next Post